कैटरीना भजन

Publishing time:2021-10-20 02:46:17

मुझे लवबेट प्रोमो कोड चाहिए कैटरीना भजन 10cric नियम और शर्तें,casumo जर्मनी,लियोवेगास स्पोर्ट्स ऐप,lovebet शिकायतें,lovebet या बेट365,lovebet ज़ीगट मीन वेट निक्ट एन,क्या ऑनलाइन असली पैसे वाले शतरंज और ताश के खेल लोगों के लिए आंशिक हैं?,बैकरेट फ्री गोल्ड,बैकारेट विले,बेटिंग लूडो,कैसीनो शर्त,कैसीनो जीत,क्लासिक रम्मी टोल फ्री नंबर,क्रिकेट लेन कॉनकॉर्ड nh,ईए स्पोर्ट्स,आई स्पोर्ट्स,फुटबॉल ऑफसाइड नियम,उत्पत्ति कैसीनो समीक्षा भारत,फुटबॉल बाधा का विश्लेषण कैसे करें,आईपीएल समाचार हिंदी में,जैकपॉट गांव,लाइव ब्लैकजैक टूर्नामेंट,लॉटरी 10 जुलाई,लॉटरी क्षेत्र,एनबीए फाइनल स्कोर,ऑनलाइन कैसीनो xrp,भारत में ऑनलाइन पोकर कानूनी,परिमच इंडिया हेड ऑफिस,टीवी में पोकर,रियल लाइफ इंटरनेशनल बैकरेट,घर में शासन,रम्मी वेरिएंट वीडियो,स्लॉट मशीन कोस्टेनलोस स्पीलें,खेल 70s,स्पोर्ट्सबुक केसी,टेक्सास होल्डम न्यूनतम वृद्धि,टीआर कैसीनो,पोकर चेहरा क्या है,वाई कैसीनो मिन्स्क,ऋषि स्टेटस,क्रिकेट england,गोवा चार्ट,ढँकेसरी लाटरी सम्बाद नाईट,फुटबॉल हीरो इंडियन सुपर लीग,बेटा शायरी,लॉटरी फास्ट बाजार, .म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

मार्च में 29,745 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी हुई, जिसके चलते कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट फरवरी में 31.64 लाख करोड़ रुपये से घटकर मार्च में 31.43 करोड़ रुपये रह गया.
मुंबई: वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई. हालांकि, मार्च 2021 में इसमें एक फीसदी की मामूली गिरावट देखी गई.

क्रिसिल की एक रिपोर्ट में शुक्रवार को बताया गया कि ओपेन-एंडेड डेट फंडों से शुद्ध आधार पर निकासी के चलते वर्ष दर वर्ष आधार पर मार्च में एयूएम में एक फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.

इसे भी पढ़ें: श्रीराम प्रॉपर्टीज पेश करेगी 800 करोड़ रुपये का आईपीओ, दायर की याचिका

इंडस्ट्री से मिले आंकड़ों के मुताबिक, मार्च में 29,745 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी हुई, जिसके चलते कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट फरवरी में 31.64 लाख करोड़ रुपये से घटकर मार्च में 31.43 करोड़ रुपये रह गया.

हालांकि, इसके बावजूद पूरे वित्त वर्ष के दौरान इसमें 41 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और कुल 2.09 लाख करोड़ रुपये का निवेश दर्ज किया गया. ओपेन-एंडेड डेट फंडों से 52,528 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी हुई, जो मार्च 2020 के बाद सबसे अधिक है.



हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

इक्विटी म्यूचुअल फंडएयूएमशेयर बाजारम्यूचुअल फंडडेट म्यूचुअल फंडक्रिसिल

ETPrime stories of the day

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?
Agriculture

Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?

7 mins read
म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं.शेयरों में निवेश से जुड़े जोखिम के अलावा इंटरनेशनल फंड में निवेश से करेंसी का जोखिम भी जुड़ा होता है. दूसरे देश की मुद्रा के मुकाबले रुपये में कमजोरी और मजबूती का असर आपके रिटर्न पर पड़ता है.व्हॉट्सएप ने अपने एप पर 'शॉपिंग बटन' जोड़ा, जानिए क्‍या होगा फायदा

पिछले सप्ताह फोर्ड इंडिया ने एक जनवरी से अपने विभिन्न मॉडलों की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की थी.मारुति सुजुकी इंडिया, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी वाहन कंपनियां भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुकी हैं.म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.प्राइम इंवेस्टर ने निवेशकों को फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड की सभी स्कीमों से निकासी करने की सलाह दी है. प्राइम इंवेस्टर चेन्नई की एक स्वतंत्र रिसर्च फर्म है.ओला-ऊबर नहीं वसूल सकेंगे ज्यादा किराया, सरकार ने जारी कीं नई गाइलाइंस

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


लवबेट इनसाइडर
lovebet ओ'यनाशो
क्रिकेट क्षेत्ररक्षण की स्थिति
स्टेटस ऐटिटूड
कैसीनो थीम पार्टी
lovebet ई बेटसन
पोकर औ बाउटन
लीवगैस निकासी सीमा
मैं पोकर हैंड
एओ स्पोर्ट्स मेडिसिन
स्टेटस लगाने के लिए
हैंडीकैप 0-2 लवबेट
एम लवबेट ug
lovebet पीएलसी
लॉटरी एन.वाई
फुटबॉल हिंदी निबंध
एक्स क्रिकेट बॉल्स
बैकरेट मास्टर कौशल
मोबाइल पर रम्मी सर्कल
एम पोकोरा
स्पोर्ट्स जीके पीडीएफ
नवीनतम सट्टेबाज
आधिकारिक सट्टेबाजी वेबसाइट
तीन पत्ती पैसा कमाओ
मैं पोकर रूम
करीना घर
नकद शतरंज का खेल